21 C
New Delhi
Sunday, October 18, 2020
Rahul with soniya Priyanka

Congress on Oxygen-सोनिया गांधी ने किया ये बड़ा ऐलान

0
वर्तमान में कांग्रेस के लिये सबसे बड़ी चुनौती पार्टी की अखंडता बनाये रखने की है। आज के हालात ऐसे हैं कि कांग्रेस के दिग्गज नेता या तो पार्टी छोड़ चुके हैं या फिर इस फिराक में हैं कि सत्तारूढ़ दल से सौदा कर सकें। ऐसे में पार्टी के ऐसे नेता की जो पार्टी को एकसूत्र में बांध सके। वर्तमान में पार्टी नेतृत्व के संकट से गुजर रही है। अफसोस की बात है कि पार्टी पिछले एक डेढ़ साल से स्थायी अध्यक्ष के पद से वंचित है। हार कर सोनिया गांधी को एक बार फिर पार्टी का नेतृत्व करना पड़ रहा है। सोनिया गांधी अपने स्वास्थ की वजह से पार्टी को पूरा समय नहीं दे पा रही हैं।
journalism of India (1)

Journalism is in bad condition-अपनी दुर्गति के जिम्मेदार स्वयं पत्रकार हैं

0
मैंने अपनी पत्रकारिता के 25 साल में पत्रकारों की इतनी बुरी हालत पहली बार देखी है सच पूछा जाये तो इस हालत के लिये पत्रकार स्वयं जिम्मेदार है। आप सभी को यह सुनकर अजीब सा लग रहा होगा। लगना भी चाहिये क्यों कि कोई अपने प्रोफेशन के बारे में ऐसा नहीं बोल सकता है। कारण यह है कि हमारे प्रोफेशन में सभी लोग काफी मतलबी है। कोई किसी भी परेशान पत्रकार की बात को समर्थन नहीं करता है। बल्कि यह सोच कर मन ही मन खुश होता है कि अच्छा हुआ फसं गया बहुत ज्यादा इमानदारी और नैतिकता की बात करता था।
udhav_aditye_devendra (1)

Maharashtra Politics-सुशांत तो बहाना है टारगेट तो उद्धव सरकार है

0
पिछले डेढ़ माह से महाराष्ट्र में सियासी हलचलों का दौर चल रहा है। महाराष्ट्र में शिवसेना,एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन की सरकार है। इस बात को भाजपा बर्दाश्त नहीं कर पा रही है। बीजेपी ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत को तूल देना जारी रखा है। इस बहाने वो उद्धव ठाकरे सरकार पर रोज ही घेर रही है। शिवसेना इस कांड में पूरी कोशिश कर रही है कि सुशांत सिंह कांड जल्द से जल्द ठंडे बस्ते में चला जाये लेकिन बीजेपी और बिहार सरकार ने इसे अपनी प्रतिष्ठा का सवाल बना लिया है।

Indian economy in danger-भारतीय अर्थ व्यवस्था के लिये खतरे की घंटी

0
आरबीआई की निर्धारित प्रक्रिया में बैंक किसी कर्जदार के लोन की मियाद, ब्याज दर या ईएमआई को बदलकर उसे चुकाना आसान कर देते हैं और अपनी बही में से कर्जदार के लोन को एनपीए से हटा देते हैं। इस उम्मीद के साथ कि कर्जदार बकाया लोन चुका देगा। इस 8.4 लाख करोड़ में से 60 फीसदी लोन एनपीए में बदलने वाला है। भारत में कर्ज के पुर्नगठन का क्या इतिहास रहा है ?
ms d (1)

End of era-धौनी ने कहा अ​लविदा क्रिकेट के एक युग का अंत

0
2005 में भारतीय क्रिकेट जगत में एक ऐसे खिलाड़ी ने प्रवेश किया जिसने न केवल भारत में बल्कि पूरे विश्व में अपने खेल और करिश्माई व्यक्तित्व का लोहा मनवा दिया है। धौनी न केवल क्रिकेट बल्कि अपने जिंदादिली और शांत स्वभाव के लिये जाते हैं। 74वें स्वतंत्रता दिवस की शाम को अचानक यह खबर आयी कि धौनी ने इंटनेशनल क्रिकेट सें संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडिल से एक फेसम गीत मैं पल दो पल का शायर हूं से अपने संन्यास लेने का संदेश दिया और कहा कि आज शाम 7.30 से मैं इंटरनेशनल क्रिकेट प्रतियोगिता में भाग नहीं लूंगा।

Rajsthan Politics-what will do Sachin pilot Now

0
A high voltage political drama created in Rajsthan this week. CM Ashok Gehlot accused BJP to di established the Rajshan Govt.. He also alleged Dy. CM and...

Is BJP is involved consipiracy Rajsthan-क्या कांग्रेस मुक्त होने जा रहा देश

0
एक बार फिर भाजपा अपने मंसूबे पूरे करने के लिये राजस्थान में खरीद फरोख्त का खेल खेलने जा रही है। एक बार फिर राजस्थान कांग्रेस के बड़े नेता के...

Criminals in UP—श्रीप्रकाश शुक्ला के बाद विकास दुबे

0
जुलाई माह में यूपी के आठ पुलिस कर्मचारियों की हत्या के आरोप में विकास दुबे की यूपी पुलिस कुत्ते की तरह पीछे पड़ गयी थी। आखिकार सातवें कुख्यात अपराधी...
India vs china

Conversation of Ajit doval and Chinees Min. Wang yei-Media is spreading rumor in public

0
केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार अपने खरीदे हुए मीडिया से झूठा दुष्प्रचार करवा रही है। एनएसए चीफ अजित डोवाल और चीनी विदेश मंत्री वांग यी की बातचीत के बाद...

The truth of Indo china war 1962-China was very strong in Arm and amutions

0
1962 के चीनी हमले में चीनी सेना संख्या में भारतीय सेना से न सिर्फ़ दोगुनी थी बल्कि उनके पास बेहतर हथियार थे और वो लड़ाई के लिए पूरी तरह...