#Modigovt#Homedept.#TMCgovt.news#BJPMlaShuvendu#BJPmlaMukulRoyNews#

पचिम बंगाल में विधानसभा का चुनाव परिणाम आ चुका है लेकिन वहां पर केन्द्र सरकार और ममता बनर्जी सरकार के बीच तनातनी का दौर जारी है। रोज ही सियासी दांव पेंच का दौर चल रहा है। ताजा मामला यह है कि केन्द्र सरकार के इशारे पर सीबीआई ने कोलकाता जा कर टीएमसी के 5 विधायकों जिनमे मंत्री भी शामिल थे नारदा स्टिंग मामले में पूछताछ के लिये सीबीआई दफ्तर बुलाया और गिरफ्तार कर लिया। इस बात की जानकारी जब सीएम ममता बनर्जी को हुई तो वो वहां तमतमा कर पहुंचीं और दफ्तर पर ही धरना देनें बैठ गयीं। इस बात की जानकारी होते ही टीएमसी के बहुत सारे कार्यकर्ता और नेता वहां पहुंच गये। टीवी चैनलों के अनुसार वहां टीएमसी कार्यकर्ताओं नारेबाजी करते हुए पथराव किया जिसके जवाब में पुलिस ने हल्का लाठीचार्ज किया जिसमें कुछ लोग घायल हो गये। हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद गिरफ्तार सभी मंत्रियों और विधायकों को हाइकोर्ट ने जमानत दे दी है। लेकिन
यह कहावत मोदी सरकार पर ठीक बैठती है कि बंदर कितना भी सुधर जाये लेकिन बंदर कुलांचे मारने से बाज नहीं आता। 2 मई के बाद से ही मोदी सरकार के मंत्री और बीजेपी के नेता इस तरह के बयान देने से बाज नहीं आ रहे जिससे ममता की सरकार चैन से बैठ सके। ठीक शपथ ग्रहण के समय ही इस बात का एहसास राज्यवाल जगदीप धनखड़ करा दिया था कि चुनाव भले ही टीएमसी जीता है लेकिन केन्द्र में भाजपा की ही सरकार है जिसके पास वो सारी पावर हैं जिनके इस्तेमाल से ममता को परेशान किया जा सके।
सीबीआई प्रवक्ता की माने तो यह एक वैधानिक प्रक्रिया है जिसके तहत टीएमसी के मंत्रियों फरहाद , सुब्रत बनर्जी और मदन मित्रा को पूछताछ के लिये बुलाया गया था। बाद में उन सभी को कोलकाता हाईकोर्ट ने जमानत दे दी। दिलचस्प मामला यह है कि नारदा स्टिंग में पूर्व टीएमसी नेता मुकुल राॅय, शुवेंदु अधिकारी और अर्जुन सिंह के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज है। ये सभी नेता अब भाजपा के विधायक हैं। लेकिन सीबीआई ने उपरोक्त नेताओं को न तो गिरफ्तार किया और न ही पूछताछ के लिये आफिस में बुलाया। इस बात से सत्ताधारी दल और कार्यकर्ताओं भारी रोष व्याप्त है। सीबीआई की इस हरकत से साफ जाहिर हो रहा है कि चुनावी हार को मोदी सरकार अब तक पचा नहीं पायी है। यह भी लगने लगा है कि ममता सरकार को किसी न किसी तरह से आये दिन परेशान करने के तरीके केन्द्र सोच रहा है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here