Edited By Nilesh Mishra | एएनआई | Updated:

फाइल फोटो: लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों
हाइलाइट्स

  • रियाज नायकू के मारे जाने के बाद हैजर गाजी बना कश्मीर में हिजबुल का कमांडर
  • इसीपर केजेएस ढिल्लों ने कहा- कितने गाजी आए, कितने गाजी चले गए
  • लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्लों लंबे समय तक कश्मीर में आकंकी विरोधी गतिविधि में शामिल रहे हैं

श्रीनगर

हाल ही में खबरें आनी शुरू हुई हैं कि हिजबुल मुजाहिदीन ने गाजी हैदर को कश्मीर में अपना नया कमांडर बनाया है। हिजबुल जैसे तमाम आतंकी संगठनों से लंबे समय तक लोहा लेते रहे आर्मी की 15वीं कोर के पूर्व कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने इसपर चुटकी है। वर्तमान में डिफेंस इंटेलिजेंस एजेंसी की चीफ केजेएस ढिल्लों ने ट्वीट करके कहा है- कितने गाजी आए और कितने गाजी गए।

आर्मी की चिनार कॉर्प्स के चीफ रहते आतंकियों के छक्के छुड़ाने वाले लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों के रहते कई आतंकियों को मारा गया। ढिल्लों ने कमांडर रहते हुए कश्मीर घाटी में कई आतंक विरोधी गतिविधियों और घुसपैठ विरोधी ऑपरेशन्स की अगुवाई की है। कश्मीर में इन दिनों खूब चर्चा है कि हिजबुल मुजाहिदीन ने गाजी हैदर को अपना नया कमांडर बनाया है।

घाटी में आतंकियों के खात्मे पर केजेएस ढिल्लों ने जमकर किया काम

सोशल मीडिया पर काफी प्रभावी ढंग से सक्रिय लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने मौका देखते ही तंज कसते हुए ट्विटर पर लिखा, ‘कितने गाजी आए, कितने गाजी गए।’ आपको बता दें कि पुलवामा हमले के समय भी श्रीनगर में स्थित आर्मी की 15वीं कोर के कमांडर केजेएस ढिल्लों ही थे। कई महत्वपूर्ण ऑपरेशन्स में भी ढिल्लों की अहम भूमिका रही है।

हाल ही में कश्मीर में हुए एक एनकाउंटर में हिजबुल के कमांडर रियाज नायकू मारा गया था। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने हाल ही में कहा था कि जब बड़े आतंकी मारे जाते हैं तो इससे उनके रीक्रूटमेंट पर असर पड़ता है क्योंकि आतंक का दामन थामने जा रहे युवा डर जाते हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here