किसान आंदोलन को एक साल पूरा होने पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा में केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया. साथ ही उन्होंने इस आंदोलन में शहीद हुए किसानों को श्रद्धांजलि भी दी. केजरीवाल ने कहा कि भारत में ऐसा पहली बार हुआ है, जब अपनी ही चुनी हुई सरकार के खिलाफ आंदोलन करते हुए 700 किसान शहीद हो गए. आइए जानते हैं उन्होंने और क्या कुछ कहा.

अरविंद केजरीवाल के भाषण की 10 बड़ी बातें

  • अरविंद केजरीवाल ने कहा कि किसान आंदोलन में हर धर्म के लोग शामिल हुए.
  • केजरीवाल ने कहा मैंने ऐसा आंदोलन कहीं नहीं देखा.
  • इस आंदोलन में कोई प्रत्यक्ष तो कोई घर से किसानों के लिए दुआएं भेज रहा था.
  • जो लोग इस देश का भला चाहते हैं सभी ने इस आंदोलन का समर्थन किया, महिलाओं ने, बच्चों ने, बुजुर्गों हर जाति के लोगों ने इसका सपोर्ट किया.
  • खासतौर पर पंजाब के किसानों ने इस आंदोलन में अहम भूमिका निभाई.
  • पंजाब की महिलाएं बॉर्डर पर डटी रहीं.
  • सत्ता पक्ष ने किसानों को भड़काने में, गालियां देने में और साजिश रचने में कोई कसर नहीं छोड़ी.
  • लखीमपुर में सरेआम किसानों को गाड़ी से कुचल दिया गया.
  • सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद आरोपी को गिरफ्तार किया गया
  • 700 किसान अपने ही देश में शहीद हो गए, उन सभी को नमन करता हूं.

ये भी पढ़ें

Punjab News: अरविंद केजरीवाल ने कहा- कांग्रेस को वोट दें, अगर ऐसा है तो…

Amarinder Singh के सामने खड़ी हुई नई मुश्किल, पंजाब लोक कांग्रेस के अध्यक्ष के खिलाफ CBI के कई केस दर्ज



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here