कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए महीनों तक मास्क पहनने को मजबूर बीजिंग के लोग अब बाहर निकलने पर खुली हवा में बिना मास्क के सांस ले सकेंगे क्योंकि यहां बाहर निकलने पर इसे पहनने की अनिवार्यता समाप्त कर दी गई है। कोविड-19 के दुनियाभर में प्रकोप के बीच बीजिंग चीन का और शायद दुनिया का ऐसा कदम उठाने वाला पहला शहर है।

इससे इस बात के भी संकेत मिलते हैं कि चीन की राजधानी में कोरोना वायरस संबंधी हालात काबू में हैं।

‘चाइना डेली की खबर के मुताबिक ‘बीजिंग सेंटर फॉर डिसीज प्रिवेंशन एंड कंट्रोल ने इस बारे में नए दिशा-निर्देशों की घोषणा की है। केन्द्र ने कहा है कि लोगों को बाहर निकलने पर मास्क पहनने की जरूरत नहीं है लेकिन अब भी उन्हें नजदीकी संपर्क से बचकर रहना चाहिए।

संसद सत्र कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए स्थगित किया गया था, लेकिन अब देश में संक्रमण के मामलों में आ रही कमी को देखते हुए इसका 22 मई को आयोजन किया जा सकता है।

आपको बता दें कि भारत में कोरोना के बढ़ते समीकरण को ध्यान में रखते हुए, कई राज्यों की सरकार ने मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है। इसके साथ ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ-साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी लोगों से लगातार मास्क पहनने की अपील कर रहे हैं।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here