UP Election 2022: समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने मंगलवार को कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishvas) को सपा में शामिल होने का न्यौता दिया. लखनऊ में इंदिरा प्रतिष्ठान में रामगोपाल यादव की किताब ‘राजनीति के उस पार’ का विमोचन समारोह था. इस कार्यक्रम में कुमार विश्वास मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे. इस दौरान मुलायम सिंह यादव ने कवि उदय प्रताप से अपनी भावना व्यक्त की.

मंच पर मुलायम सिंह के बगल में बैठे कवि उदय प्रताप सिंह ने कहा, ”कुमार विश्वास एक बड़े कवि के रूप में जाने जाते हैं. नेताजी (मुलायम) मेरे कानों में कह रहे थे कि अगर वह किसी भी पार्टी में नहीं हैं, तो आप उन्हें समाजवादी पार्टी में क्यों नहीं लेते.” इसके बाद कुमार विश्वास मुस्कुराने लगे. अखिलेश यादव का चेहरा भी खिला सा नजर आया. 

इस पूरे वाकये से जुड़े वीडियो पर कुमार विश्वास ने ट्विटर पर प्रतिक्रिया दी. उन्होंने लिखा, ”मेरे प्यारे, जिस पुस्तक का मैंने विमोचन किया उसका शीर्षक “राजनीति के पार” स्वयं में ही सूचना है. प्रो रामगोपाल जी के पचहत्तर-उत्सव में तो कांग्रेस, वामपंथ, दक्षिणपंथ से लेकर नए नौनिहाल दलों तक के नेता सम्मिलित थे, बस मैं और प्रोफेसर रामगोपाल जी की किताब ही “राजनीति के पार” थे.”

इससे पहले विश्वास ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राजनीति में अपने अनुभव का जिक्र किया और कहा कि वह अब कहीं (किसी पार्टी में) नहीं हैं.

कुमार विश्वास पहले आम आदमी पार्टी का एक प्रमुख चेहरा थे और 2014 के आम चुनाव में अमेठी से कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़े थे और नाकामयाब हो गये थे. हालांकि बाद में उन्होंने आप छोड़ दी और राजनीति से दूर हो गए.

Cryptocurrency Bill 2021: मोदी सरकार शीतकालीन सत्र के दौरान संसद में पेश करेगी क्रिप्टोकरेंसी समेत 26 बिल



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here