Mobile Tariff Hike News: सोमवार की सुबह टेलीकॉम कंपनियों ( Telecom Companies) के शेयरधारकों ( Shareholders) के लिये खुशखबरी लेकर आई. भारती एयरटेल ( Bharti Airtel) ने 20 से 25 फीसदी तक प्रीपेड मोबाइल टैरिफ ( Prepaid Mobile Tariff) बढ़ाने का ऐलान कर दिया.

फिर क्या था, भारती एयरटेल ( Bharti Airtel) का शेयर 52 हफ्ते के उच्चतम स्तर 755.95 रुपये पर जा पहुंचा. एयरटेल के निवेशकों ( Airtel Shareholders) की बांछे खिल गई जिन्हें लंबे समय से मोबाइल टैरिफ बढ़ाये जाने का इंतजार था. हालांकि शेयर बाजार में भारी गिरावट तके चलते तेजी पर ब्रेक लग गई, फिर भी एयरटेल का शेयर 4 फीसदी की बढ़त के साथ 742 रुपये पर बंद हुआ है. 

अब Vodafone Idea और Reliance jio की बारी

एयरटेल का अब सबसे सस्ता प्रीपेड मोबाइल टैरिफ प्लान 79 रुपये के बजाये 99 रुपये का हो चुका है. एयरटेल के इस फैसले से उसके कस्टमर्स को मोबाइल रिचार्ज कराने के लिये अब ज्यादा पैसे चुकाने होंगे लेकिन शेयरधारकों को उम्मीद है कि मोबाइल टैरिफ बढ़ाने का सिलसिला यहीं थमने वाला नहीं है.

कंपनी ने आने वाले समय में मोबाइल टैरिफ में और बढ़ोतरी किये जाने के संकेत दिये हैं. Airtel ने टैरिफ बढ़ाया लेकिन इसका असर देश की तीसरी बड़ी टेलीकॉम ऑपरेटर वोडाफोन आईडिया ( Vodafone Idea ) के शेयर पर भी देखने को मिली. वोडाफोन आईडिया का शेयर 10.90 रुपये पर जा पहुंचा. हालांकि ये 6.53 फीसदी की उछाल के साथ 10.60 रुपये प्रति शेयर पर बंद हुआ.  

दरअसल फिलहाल एयरटेल ने टैरिफ बढ़ाने का फैसला लिया है लेकिन माना जा रहा है कि वोडाफोन आईडिया  ( Vodafone Idea) से लेकर रिलायंस जियो ( Reliance jio) भी मोबाइल टैरिफ ( Mobile Tariff) बढ़ाने का ऐलान कर सकती है.

मोबाइल टैरिफ बढ़ने का सिलसिला रहेगा जारी

मोबाइल टैरिफ बढ़ने का सिलसिला आगे भी जारी रह सकता है. भारती एयरटेल ने टैरिफ बढ़ाने का ऐलान करते हुये कहा है कि, हमारा हमेशा से मानना रहा है कि  Average Revenue Per User (ARPU) 200 रुपये होना चाहिये और आगे जाकर इसे 300 रुपये होना चाहिये. जिससे पूंजी निवेश पर बेहतर रिटर्न मिले और  बिजनेस मॉ़डल के लिहाज से कंपनी की वित्तीय सेहत बेहतर रहे. हमारा ये भी मानना है कि Mobile Average Revenue Per User (ARPU) के इस स्तर पर होने से नेटवर्क और स्पेक्ट्रम में जरुरी निवेश उपलब्ध हो सकेगा. साथ ही भारती एयरटेल इसके जरिये देश में 5जी सेवा को शुरू करने में भी सक्षम होगी. यही वजह है कि मोबाइल टैरिफ को rebalancing करने की दिशा में ये एयरटेल का पहला कदम है. 

कंपनियां ARPU बढ़ाने के फिराक में

दरअसल एयरटेल का Average Revenue Per User (ARPU) अभी 153 रुपये है. आज प्रीपेड मोबाइल टैरिफ बढ़ने के बाद 175 रुपये तक ARPU जाने की उम्मीद है. वहीं मौजूदा समय में Reliance Jio का ARPU 143 रुपये और वोडाफोन का 109 रुपये है.

जाहिर है 200 रुपये और फिर 300 रुपये प्रति यूजर रेवेन्यू हासिल करने के लिये इन कंपनियों को टैरिफ में और बढ़ोतरी करनी होगी. वहीं बाजार के जानकारों का मानना है कि प्रीपेड ही नहीं बल्कि आने वाले दिनों में Post Paid Mobile Tariff भी बढ़ सकता है. टेलीकॉम कंपनियों प्रीपेड में टैरिफ बढ़ाने के बाद पोस्टपेड का टैरिफ बढ़ायेंगी. इन्हीं वजहों से माना जा रहा है आने वाले दिनों में टेलीकॉम सेक्टर के शेयरों में तेजी बनी रही सकती है.  

डिस्क्लेमर: (यहां मुहैया जानकारी सिर्फ़ सूचना हेतु दी जा रही है. यहां बताना ज़रूरी है की मार्केट में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है. निवेशक के तौर पर पैसा लगाने से पहले हमेशा एक्सपर्ट से सलाह लें. ABPLive.com की तरफ से किसी को भी पैसा लगाने की यहां कभी भी सलाह नहीं दी जाती है.)

ये भी पढ़ें: 

Airtel Prepaid Mobile Tariff Hike: मोबाइल रिचार्ज कराना हुआ महंगा, एयरटेल ने बढ़ाया प्रीपेड टैरिफ, अब दूसरी कंपनियों की बारी!

Rakesh Jhunjhunwala Backed Star Health IPO: 30 नवंबर को खुल सकता है Star Health का IPO, 7500 करोड़ रुपये जुटाने का है लक्ष्य



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here