टिड्डियों से निपटने के लिए भारत ने पाकिस्तान और ईरान से सहयोग की पेशकश की। इस पर जहां ईरान ने सहमति दे दी वहीं पाकिस्तान से अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है। रेगिस्तानी टिड्डियों का दल मध्य प्रदेश, गुजरात और राजस्थान के किसानों पर मुसीबत बनकर मंडरा रहा है।

Edited By Shefali Srivastava | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

सांकेतिक तस्वीर
हाइलाइट्स

  • किसानों पर मंडराते टिड्डी संकट से उबरने के लिए भारत ने पाकिस्तान और ईरान से सहयोग की पेशकश की
  • टिड्डियों पर भारत के प्रस्ताव पर जहां ईरान ने अपनी सहमति दे दी है वहीं पाकिस्तान ने मसले पर चुप्पी साध ली है
  • सूत्रों के अनुसार, भारत ने कोविड-19 की तर्ज पर रेगिस्तानी टिड्डियों के प्रकोप को नियंत्रित करने के बारे में पहल की है

नई दिल्ली

पाकिस्तान (Pakistan) से चला टिड्डी दल (locust party) भारत के मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh), उत्तरी गुजरात (Gujarat) और राजस्थान (Rajasthan) के इलाकों में कोहराम मचा रहा है। टिड्डियों के आतंक से किसान परेशान हैं। कोविड-19 (COVID-19) के बीच किसानों पर मंडराते इस संकट से उबरने के लिए भारत ने पाकिस्तान और ईरान से सहयोग की पेशकश की। भारत के प्रस्ताव पर जहां ईरान ने सहमति दे दी है वहीं पाकिस्तान की संकीर्ण सोच एक बार फिर सामने आई है। इस्लामाबाद से अभी तक कोई जवाब नहीं मिला है।

सूत्रों ने बताया कि भारत ने कोविड-19 की तर्ज पर रेगिस्तानी टिड्डियों के प्रकोप को नियंत्रित करने के बारे में पहल की है। दक्षिण और दक्षिण पश्चिम एशिया में इसका प्रकोप फसलों को बर्बाद कर देता है। इस साल भी यह इलाका चुनौती का सामना कर रहा है। भारत ने पाकिस्तान को सुझाव दिया है कि दोनों देशों को टिड्डी नियंत्रण अभियान के लिए मिलकर काम करना चाहिए।

भारत ने की कीटनाशक देने की पहल

सूत्रों के मुताबिक, भारत ने ईरान को उसके सिस्तान-बलूचिस्तान और दक्षिण खोरासां प्रांतों में टिड्डियों के सफाये के लिए मेलाथियान कीटनाशक की सप्लाइ का ऑफर भी दिया है। नई दिल्ली को तेहरान से इस पहल को सकारात्मक जवाब मिला है जबकि पाकिस्तान ने अभी तक चुप्पी साध रखी है। सूत्रों के मुताबिक, देखना होगा क्या पाकिस्तान इस बार अपनी संकीर्ण सोच से ऊपर उठ पाता है।

मध्य प्रदेश के किसान परेशान

पाकिस्तान से चला टिड्डी दल अब मध्यप्रदेश के कई इलाकों में कोहराम मचाने पहुंच गया है। टिड्डी दल के हमलों से किसान परेशान है। टिड्डी दल अब उज्जैन और आगर-मालवा के इलाके में पहुंच गया है। टिड्डियों को भगाने के लिए उन इलाकों में कीटनाशकों का छिड़काव किया जा रहा है। टिड्डी सब्जी की फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। स्थानीय प्रशासन इसे लेकर अलर्ट पर है।

Web Title iran agrees pakistan yet to response on india’s coordinated response to tackle locust attack(News in Hindi from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here