भारतीय शेयर  बाजार में विदेशी निवेशकों का रुझान लगातार बना हुआ है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है दिवाली तक घरेलू बाजार दोबारा रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच सकता है। टीकाकरण से निवेशकों में कोरोना का डर भी खत्म होता नजर आ रहा है। इसके अलावा जीडीपी में वृद्धि के संकेतों की उम्मीद से भी बाजार में इन दिनों उछाल आ रहा है। वैश्विक बाजारों से सकारात्मक संकेतों, आदि से प्रभावित होकर बाजार जल्द ही नए शिखर पर पहुंच सकता है। जिस तरह से भारतीय शेयर बाजार में तेजी आ रही है, अनुमान लगाया जा रहा है कि दिवाली तक यह ब्रिटेन को पीछे छोड़ सकता है।

छह दिन में निवेशकों की पूंजी 8.55 लाख करोड़ बढ़ी

बाजार में जोरदार तेजी जारी रहने से निवेशकों की संपत्ति सिर्फ छह दिन में 8.55 लाख करोड़ से अधिक बढ़ गई है। दरअसल, छह अक्तूबर को बीएसई पर सूचीबद्ध कंपनियों का पूंजीकरण 2,62,20,547 करोड़ था जो 13 अक्तूबर को बाजार बंद होने के बाद बढ़कर 2,70,76,138 करोड़ पहुंच गया। इस तरह निवेशकों की संपत्ति सिर्फ छह ट्रेडिंग सेशन में 8.55 लाख करोड़ से अधिक बढ़ गई। पिछले पांच कारोबारी दिनों में सेंसेक्स करीब 1500 अंक चढ़ा है।

यह भी पढ़ें: बिग बुल राकेश झुनझुनवाला ने इस सरकारी कंपनी पर लगाया दांव, 2,50,00,000 शेयर खरीदे

पांच आईपीओ ने निवेशकों को मालामाल किया

साल 2021 में, अधिकांश कंपनी आईपीओ ने निवेशकों को जोरदार रिटर्न दिया है। 40 से अधिक कंपिनयों ने 2021 में सितंबर तक अपने आईपीओ लॉन्च किए हैं, जो 70,000 करोड़ रुपये से अधिक है। अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में करीब 30 और आईपीओ आने की संभावना है। इस बीच पांच कंपनी के आईपीओ ने निवेशकों को 418 फीसदी तक रिटर्न दिया है। होम हेल्थकेयर निर्माता न्यूरेका ने 400 रुपये में आईपीओ पेश किया था। एक साल के अंदर में कंपनी का शेयर निर्गम मूल्य से 418 प्रतिशत बढ़कर 2,071.80 हो गया है। इसी तरह पारस डिफेंस ने 280 फीसदी, एमटीआर टेक ने 204 फीसदी, नजारा टेक्नोलॉजीज ने 191 फीसदी और तत्व चिंतन ने 165 फीसदी रिटर्न निवेशकों को दिया है।

सेंसेक्स 453 अंक उछलकर नए रिकॉर्ड स्तर पर

शेयर बाजारों में तेजी का सिलसिला लगातार पांचवें कारोबारी सत्र बुधवार को भी जारी रहा। बीएसई सेंसेक्स 453 अंक उछलकर नये रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स एक समय कारोबार के दौरान 60,836.63 अंक तक चला गया था। अंत में यह 452.74 अंक उछलकर 60,737.05 के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 169.80 अंक की तेजी के साथ 18,161.75 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह रिकॉर्ड 18,197.80 अंक तक चला गया था। सेंसेक्स के शेयरों में 5 प्रतिशत से अधिक की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में महिंद्रा एंड महिंद्रा रही। इसके अलावा आईटीसी, एलएंडटी, टेक महिंद्रा, टाइटन और टाटा स्टील में भी प्रमुख रूप से तेजी रही।

फ्रांस के बाद ब्रिटेन को पछाड़ने की तैयारी में भारतीय बाजार

भारतीय शेयर बाजार जल्द ही फ्रांस के बाद ब्रिटेन को पछाड़ कर दुनिया के शीर्ष पांच शेयर बाजारों में शामिल हो सकता है। दरअसल, दुनियाभर के बाजारों में भारतीय बाजार का पूंजीकरण कोरोना के बाद से सबसे तेजी से बढ़ा है। इसके चलते सितंबर में ही में यह फ्रांस को पीछे छोड़कर छठे स्थान पर आ गया था। अब यह बाजार पूंजीकरण के लिहाज से ब्रिटेन के बाजार को पीछे छोड़ते हुए पांचवें स्थान पर आ सकता है।

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय शेयर बाजार का पूंजीकरण इस साल 37 फीसदी बढ़कर 3.46 लाख करोड़ डॉलर से अधिक हो गया है। वहीं, ब्रिटेन के बाजार का पूंजीकरण इस साल सिर्फ नौ फीसदी बढ़कर 3.59 लाख करोड़ डॉलर पर पहुंचा है। ऐसे में भारतीय बाजार जल्द ही ब्रिटेन के शेयर बाजार को पीछे छोड़कर पांचवें स्थान पर हासिल हो सकता है।

भारतीय बाजार बहुत ही आकर्षक

रिपोर्ट के अनुसार, भारत का शेयर बाजार बहुत ही आकर्षक है। लंदन एंड कैपिटल एसेट मैनेजमेंट में इक्विटीज के हेड रोजर जोन्स ने कहा कि भारत का शेयर बाजार बहुत आकर्षक लग रहा है। देश के तेजी से आगे बढ़ने की उम्मीद है। वहीं ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था ब्रेक्जिट रेफरेंडम के नतीजों के बाद से संघर्ष कर रही है। ऐसे में किसी भी समय भातरीय बाजार पूंजीकरण के लिहाज से ब्रिटेन के बाजार को पीछे छोड़ सकती है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here