Parambir Singh Extortion Case: वसूली कांड में फंसे मुंबई पुलिस के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने किला कोर्ट में खुद को भगोड़ा घोषित किए जाने के आदेश को रद्द करने की अर्जी लगाई है. इसी कोर्ट ने उन्हें भगोड़ा घोषित किया था. कल वो मुंबई पहुंच गए, इसके बाद आज परमबीर सिंह के वकील ने किला कोर्ट नंबर-37  में अर्जी लगाई है.

परमबीर सिंह की मुश्किल बढ़ती जा रही है. परमबीर सिंह पर अब उनके साथ काम करने वाले पुलिस अधिकारी ने गंभीर आरोप लगाए हैं. आरोप के मुताबिक परमबीर सिंह ने 26/11 हमले में पकड़े गए आतंकी अजमल कसाब के मोबाइल फोन को गायब कर दिया था. करीब 231 दिन से फरार चल रहे मुंबई के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह आखिरकार मुंबई पुलिस के सामने पेश हुए और कहा कि जांच में सहयोग करने आया हूं.

परमबीर सिंह पर देशद्रोह का आरोप
100 करोड़ की वसूली केस में पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह से कल क्राइम ब्रांच ने करीब 7 घंटे की पूछताछ की और आज परमबीर सिंह चांदीवाल कमीशन के सामने पेश हो सकते हैं. लेकिन परमबीर सिंह के लिए मुश्किल इतनी ही नहीं है. उनके साथ काम कर चुके एसीपी शमशेर पठान ने तो परमबीर सिंह पर आंतकी कसाब की मदद का आरोप लगा दिया है. शेमशेर ने आरोप लगाया है कि 26/11 हमले में शामिल आतंकियों की मदद की. आतंकी अजमल कसाब के मोबाइल को गायब किया.

बता दें कि कसाब इकलौता आतंकी था जो मुंबई में आतंकी हमले के बाद जिंदा पकड़ा गया था, उसके मोबाइल फोन से देश पर हुए सबसे बड़े आतंकी हमले के बहुत सारे राज निकल सकते थे, उन लोगों का पता लग सकता था जिन्होंने भारत में उनकी मदद की थी. 

ये भी पढ़ें-
Farmers Protest Timeline: भारत बंद, सरकार से आखिरी बातचीत, सुप्रीम कोर्ट की फटकार… किसान आंदोलन और कृषि कानूनों पर अबतक क्या-क्या हुआ

26/11 Mumbai Attack की 13वीं बरसी पर राजनेताओं ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि, अमित शाह ने कहा- सुरक्षाकर्मियों के साहस को सलाम



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here