बीएसएफ ने गुरुवार को जिस चीनी नागरिक को भारत-बांग्लादेश बॉर्डर से गिरफ्तार किया था, उसने पूछताछ में कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। 36 वर्षीय चीनी नागरिक हान जुनवे ने बताया कि बीते दो सालों में करीब 1300 भारतीय सिम कार्ड्स की तस्करी कर चीन भेजा गया है। इस बीच उत्तर प्रदेश एटीएस के 4 सदस्यों की टीम पश्चिम बंगाल के मालदा पहुंची है। यह टीम आरोपी से पूछताछ करेगी और मामले की जांच अपने हाथों में लेगी। बीएसएफ ने चीन हुबई प्रांत के रहने वाले हान जुनवे को गुरुवार को उस वक्त अरेस्ट किया था, जब वह बांग्लादेश से अवैध रूप से भारत की सीमा में घुस आया था। जाच में उसके बाद कोई वैध दस्तावेज भी नहीं पाया गया। 

हान जुनवे के कथित बिजनेस पार्टनर सुन जियांग को भी बीते दिनों यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जुनवे से पूछताछ को लेकर बीएसएफ के डीआईजी एसएस गुलेरिया ने कहा, ‘पूछताछ के दौरान जुनवे ने दावा किया कि जियांग ने 1300 भारतीय सिम कार्ड्स को चीन भेजा है। इन सिमों को चीन में जुनवे और उसकी पत्नी ने रिसीव किया था। अभी हम इस बात की पड़ताल कर रहे हैं कि आखिर इन सिमों की तस्करी क्यों की गई। अब इस मामले की जांच यूपी एटीएस को सौंपी जा रही है।’ बीएसएफ के वरिष्ठ अधिकारियों ने संदेह जताया है कि हान जुनवे स्पाई एजेंसी से लेकर आर्थिक अपराध तक से जुड़ा हो सकता है। 

डाक के जरिए सिम भेजने का संदेह, लैपटॉप की भी हो रही जांच
बीएसएफ के एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि भारत से सिम कार्ड्स को पोस्ट या फिर किसी अन्य शख्स के जरिए चीन भेजा गया था। पूछताछ और जांच के बाद ही आगे की सच्चाई सामने आएगी। हान जुनवे के लैपटॉप की भी एजेंसियों की ओर से जांच की जा रही है। जुनवे ने दावा किया है कि उसका गुरुग्राम में स्टार स्प्रिंग के नाम से एक होटल भी है। उसका कहना है कि वह 2010 के बाद से अब तक 4 बार भारत विजिट कर चुका है और हैदराबाद, गुरुग्राम और दिल्ली में ठहरा था। हुनवे ने कहा कि उसके होटल में कुछ चीनी कर्मचारी हैं और कई भारतीय भी उसमें हैं। 

लखनऊ पुलिस ने दर्ज की थी जुनवे के खिलाफ FIR
बीएसएफ के अधिकारियों ने बताया कि उसका पैतृक घर चीन के हुईबे में है। बता दें कि उसके कथित बिजनेस पार्टनर जियांग को यूपी पुलिस की एटीएस ने अरेस्ट किया है। तब जियांग ने भी जुनवे और उसकी पत्नी का जिक्र किया था। इसके बाद पुलिस ने उसके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की थी। इसके चलते ही उसे भारतीय वीजा नहीं मिल सका। इसके बाद जुनवे ने नेपाल और बांग्लादेश से वीजा का इंतजाम किया और भारत में एंट्री की कोशिश की।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here