दो महीने में पहली बार भारत में गोल्ड रेट्स डिस्काउंट पर हैं, क्योंकि सोने की स्थानीय कीमतों (लोकल प्राइसेज) में बढ़ोतरी के कारण इसकी डिमांड घटी है। यह बात रॉयटर्स की रिपोर्ट में कही गई है। रिपोर्ट के मुताबिक, डीलर्स ने पिछले हफ्ते भारत में सोने की घरेलू कीमतों पर 2 डॉलर प्रति औंस (1 औंस में 28.34 ग्राम) का डिस्काउंट दिया।

पहले लग रहा था 4 डॉलर का प्रीमियम 
रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले के हफ्ते में गोल्ड पर डीलर्स 4 डॉलर प्रति औंस का प्रीमियम ले रहे थे। भारत में गोल्ड प्राइसेज में 10.75 फीसदी इंपोर्ट ड्यूटी और 3 फीसदी जीएसटी शामिल होती है। इस बीच, कमजोर वैश्विक रुझान के कारण सोमवार को गोल्ड और सिल्वर प्राइसेज में कमजोरी देखने को मिली। MCX गोल्ड फ्यूचर 0.2 फीसदी की गिरावट के साथ 46,937 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा। वहीं, सिल्वर फ्यूचर्स कमजोरी के साथ 61,737 रुपये प्रति किलोग्राम पर था। हालांकि, सोने की कीमतें अब भी सितंबर आखिर के 45,700 रुपये के स्तर से काफी ऊपर हैं। 

यह भी पढ़ें- बाजार खुलते ही बड़ा झटका, कुछ ही मिनटों में 1 लाख करोड़ रुपये का नुकसान

डॉलर में गिरावट के बाद भी फ्लैट रहे गोल्ड प्राइस
वहीं, ग्लोबल मार्केट्स में डॉलर में गिरावट के बावजूद सोमवार को गोल्ड प्राइसेज फ्लैट रहे। स्पॉट गोल्ड 1,756.25 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर फ्लैट था। पिछले शुक्रवार को शुरुआती जून के बाद से बेंचमार्क यूएसस 10 ईयर ट्रेजरी यील्ड अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गई। स्पॉट सिल्वर 0.1 फीसदी की गिरावट के साथ 22.64 डॉलर प्रति औंस पर ट्रेड कर रहा था। जबकि प्लैटिनम 0.4 फीसदी की नरमी के साथ 1,022.42 डॉलर के स्तर पर था। एक्सिस सिक्योरिटीज ने गोल्ड पर न्यूट्रल रुझान बनाए रखा है और बाय-ऑन डिप्स स्ट्रैटेजी की सलाह दी है। यानी, जब भी गोल्ड प्राइसेज में गिरावट आए तो इसे खरीदें।       

यह भी पढ़ें- पेट्रोल पंप खोलना चाहते हैं तो पढ़ लें यह खबर, मोदी सरकार ने दी यह सुविधा



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here