#BJP#WestBengalPoliitics#CMMamtaBanerjee#ByElection#TMC#ElectionCommission#
वेस्ट बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के लिये बीजेपी नित नये प्रपंच रच रही है। वैसे तो ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनाव में केन्द्र सरकार समेत पूरी भाजपा को प बंगाल में छठी का दूध याद दिला दिया था। लेकिन खिसियानी बिल्ली की तरह मोदी सरकार प बंगाल की सरकार को परेशान करने की साजिश रचने में जुटी रहती है। भाजपा को प बंगाल में सिर्फ एक सफलता मिली है। पूर्व टीएमसी नेता सुबेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी को नंदीग्राम से मात्र 1420 वोटों हरा दिया। इस वजह से ममता बनर्जी के लिये उप चुनाव में जीत हासिल करना जरूरी है। 29 सितबर को भवानीपुर से ममता बनर्जी ने पर्चा दाखिल किया है। भाजपा ने उनके खिलाफ में एडवोकेट प्रियंका टिबरेवाल को उम्मीदवार बनाया है।
अब भाजपा ने एक नया बखेड़ा खड़ा किया है कि ममता बनर्जी ने अपने पर्चे में अपने ऊपर दर्ज आपराधिक मामलों का जिक्र नहीं किया है। इस बाबत बीजेपी ने चुनाव आयोग को चिट्ठी लिख कर ममता बनर्जी की उम्मीदवारी रद करने की मांग की है। विधानसभा चुनाव के वक्त भी यह अफवाह उड़ाई गयी थी कि ममता बनर्जी ने अपने ऊपर दर्ल आपराधिक मामलों का जिक्र नामांकन पत्र में नहीं किया। तब इस बात का खुलासा हुआ कि वह कोई और ममता बनर्जी है जिस पर आपराधिक मामला दर्ज किया गया था। लेकिन तब भाजपा की यह चाल सफल नहीं हो सकी। उसी चाल को इस उप चुनाव में भी चलने की तैयारी की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here