UPCongress#PoliticalCrisis#UPAssemblyElection#PriyankaGandhi#LakhimpurViolance#UPPolice#
जहां एक तरफ राहुल व प्रियंका यूपी में कांग्रेस को मजबूत करने के लिये अथक प्रयास कर रहे है। वहीं यूपी के दिग्गज नेता पार्टी का साथ छोड़ते जा रहे हैं। कुछ माह पहले पूर्व केद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद ने कांग्रेस को छोड़ भाजपा का दामन थामा थां। उसी कड़ी में यूपी कांग्रेस के एक दिग्गज नेता व प्रवक्ता आचार्य प्रमोद कृष्णन के बारे में भी पार्टी छोड़ने की चर्चा है। आचार्य कांग्रेस के एक अच्छे वक्ता व जाने माने कांग्रेसी नता हैं। वो कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा का चुनाव भी लड़ चुके है।
लेकिन चर्चा है कि वो जल्द ही कांग्रेस छोड़ सकते हैं। हाल की एक घटना से यह समझा जा रहा है कि उनकी नजदीकियां शिवपाल यादव के साथ बढ़ रही हैं। इस बात की पुष्टि 12 अक्टूबर हो गयी। शिवपाल यादव ने मथुरा से अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का विजय रथ निकाला जिसमें आचार्य प्रमोद उस रथ पर सवार थे। इस बात से चर्चा को बल मिला कि आचार्य शिवपाल के साथ जाने वाले हैं। अगर ऐसा होता है तो कांग्रेस को एक बड़ा झटका लग सकता है। प्रियंका गांधी ने जब से यूपी की कमान थामी है तब से कांग्रेस की छवि में सुधार देखा जा रहा है। लोगों को प्रियंका से काफी उम्मीदें हैं। लखीमपुर हिंसा में जिस तरह से कांग्रेस ने किसानों के हित में संघर्ष किया इससे कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश आ गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here