महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच वैक्सीन की किल्लत भी चिंता का सबब बन गई है। इस बीच मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेका ने कहा कि मुंबई में ऐसे कई वैक्सीनेशन सेंटर हैं, जहां पर एक भी वैक्सीन नहीं है और उसकी वजह से अब टीकाकरण अभियान रुक गया है। उन्होंने कोरोना के खिलाफ जंग में पीएम मोदी के प्रयासों की तारीफ की, मगर कहा कि उनके अधीन काम करने वाले लोग इस मसले को लेकर सीरियस नहीं हैं। बता दें कि कुल 51 सेंटर पर आज यानी शुक्रवार को वैक्सीनेशन नहीं होगा। 

मुंबई की मेयर किशोरी ने कहा, मुंबई में बहुत से वैक्सीनेशन सेंटर हैं, जहां पर वैक्सीन उपलब्ध नहीं है और इसकी वजह से लोगों को टीके नहीं लग रहे। मुझे जानकारी दी गई है कि आज करीब 76 हजार से 1 लाख के बीच वैक्सीन की खुराकें मुंबई पहुंचने वाली है। हालांकि, मुझे इसके बारे में कोई आधिकारिक सूचना नहीं है। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  हमारी समस्या को लेकर गंभीर और प्रोएक्टिव हैं, मगर ऐसा लगता है कि प्रधानमंत्री के अधीन काम करने वाले इस मुद्दे को उसी गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम कोरोना पर काबू पाने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं और बेड समेत अन्य सुविधाओं में युद्ध स्तर पर वृद्धि की जा रही है। 

बता दें कि वैक्सीन की कमी के बीच शुक्रवार को भी मुंबई के 50 टीकाकरण केंद्र बंद रहेंगे। इसके अलावा, सीमित स्टॉक होने के कारण, कुछ वैसे केंद्रों को भी बंद करना पड़ सकता है, जहां टीके दिए जा रहे हैं। आपको बता दें कि आज मुंबई में  प्रभावी रूप से 69 टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन दी जा रही है। आपको यह भी बता दें कि मुंबई में कुल 120 टीकाकरण केंद्र हैं, जिसका प्रतिदिन 200 से अधिक सत्रों में संचालन होता है।

कहां-कहां बंद रहेगा वैक्सीनेशन
शुक्रवार को बंद रहने वाले टीकाकरण केंद्रों में बीकेसी जंबो कोविड सुविधा, दहिसर जंबो सुविधा, कूपर अस्पताल, कस्तूरबा अस्पताल, सेवन हिल्स अस्पताल, सायन अस्पताल, वी. एन. देसाई अस्पताल, भट्टी अस्पताल और ब्रीच कैंडी अस्पताल शामिल हैं।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here