भारतीय क्रिकेट जगत में सुरेश रैना के योगदान को भी भुलाया नहीं जा सकता है। सुरेश रैना की धमाकेदार बल्लेबाजी से अपने प्रशंसकों का मन जीता है। सुरेश रेना एमएस के खास खिलाड़ियों में जाने जाते हैं। जहां धौनी वहां रैना का होना लाजिमी होता है यही वजह है कि धौनी के संन्यास लेने के कुछ मिनटों के बाद रैना ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा आपकी नयी यात्रा में मैं भी आपके साथ हूं।
एमएस की गुड लिस्ट में रैना, हरभजन, आर अश्विन और ​रविन्द्र जडेजा शामिल है। रैना और रविंद्र जडेजा एमएस के राइट और लेफ्ट के रूप में जाने जाते हैं।चैन्नई सुपर किंग्स में शुरू से ही यह सभी खिलाड़ी टीम इलेवन में रहे है। जब चैन्न्ई सुपर किंग्स पर दो साल का बैन लगा तो रैना को गुजरात लायंस की कप्तानी मिली थी। प्रतिबंध खत्म होने पर धौनी के फेवरेट खिलाड़ी वापस सीएसके में चले गये। 33 साल की उम्र में रैना ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। लेकिन वो आईपीएल का हिस्सा बने रहेंगे। 2005 में रैना ने टीम इंडिया के सदस्य में पहला वनडे मैच श्रीलंका के खिलाफ और आखिरी वनडे मैच 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here