Anupam with kiran
Actor Anupam kher asking vote and support for her wife Kiran kher in Chandigarh

नयी दिल्ली। ऐक्टर अनुपम खेर आज कल अपनी पत्नी किरण खेर के लिये चुनाव प्रचार चंडीगढ़ कर रहे है। किरण खेर ने 2014 में यहां से चुन कर संसद भवन पहुंची थी। इस बार भी बीजेपी ने उन्हें यहीं से चुनाव लड़ने को कहा है। लेकिन इस बार जीत हासिल करने में किरण खेर को एड़ी चोटी का दम लगाना पड़ रहा है। मतदाता उनसे सवाल कर रहे हैं कि उन्होंने यहां के लिये पांच साल क्या किया है। इसका जवाब शायद अनुपम किरण खेर के पास नहीं है। यही वजह है कि उन्हें मतदाओं के तीखे सवालों का वार झेलना पड़ रहा है।
ताजा मामले में अनुपम खेर अपनी पत्नी के साथ चुनाव प्रचार और जनसंपर्क कर रहे थे। वो अपने समर्थकों के साथ वहां एक दुकान में घुस गये। वहां मौजूद लोगों से उन्होंने किरण खेर के लिये वोट मांगे। इस पर वहां मौजूद लोगों ने उनसे सवाल किया कि पूरे पांच साल भाजपा सांसद ने क्षेत्र में क्या काम किया है जरा उसके बारे में तो बता दीजिये। इतना सुनते ही अनुपम के मुंह पर ताला पड़ गया और वहां से समर्थकों समेत निकल लिये। किरण खेर ने भी विवादित बयान देकर यह साबित कर दिया कि बीजेपी के सभी प्रत्याशियों ने पहले ही हार मान ली है। चुनाव आयोग ओर से उन्हें नोटिस दिया जा वुका है।
यह पहला मौका नहीं है जब अनुपम खेर को जनता ने लताड़ा हो। हाल की में उन्होंने किरण के लिये एक जनसभा का आयोजन किया था। लेकिन स्थानीय लोग उनकी मीटिंग में आने को तैयार ही नहीं हुए और हार कर मिया बीवी को वो जनसभा रद ही करनी पड़ी। वहां मौजूद किसी पत्रकार ने अनुपम खेर से सवाल किया तो उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि हर फिल्म हिट नहीं होती। इतना ही नहीं किरण खेर के समर्थन में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह एक रैली आयोजित करने वाले थे। लेकिन प्रदेश भाजपा और किरण खेर के बीच समन्वय नहीं कायम हो सका आखिर शाह को वो रैली भी रद करनी पड़ी। इस तरह के हालात देख कर ऐसा लग रहा है कि इस बार किरण खेर को टिकट दे कर बीजेपी ने सचमुच गल्ती कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here